2 अप्रैल को थाटीपुर में माउंटेन हाॅर्स गश्त पर पुलिसकर्मी, 10 पाॅइंट पर तैनात रहेंगे जवान, ड्रोन से होगी निगरानी

ग्वालियर. एससी-एसटी एक्ट में संशोधन के विरोध में पिछले साल 2 अप्रैल को हुए उपद्रव की पहली बरसी के चलते शहर हाई अलर्ट पर है। पुलिस ने पिछली बार की घटना से सबक लेकर सुरक्षा प्लान तैयार किया है। शहर के मुहानों से लेकर अंदर तक 10 तो ऐसे संवेदनशील पाॅइंट हैं जहां पिछली बार सबसे अधिक उपद्रव हुआ था। यह पाॅइंट रविवार शाम से ही पुलिस किराए पर सीसीटीवी कैमरे लेकर लगवा रही है इसके साथ ही ग्वालियर पुलिस ने शहर में आगामी 36 घंटे के लिए इंटरनेट बंद रखने का प्रस्ताव गृह विभाग को भेज दिया है।
लाठी, डंडा, सरिया फावड़ा हाॅकी आदि का प्रदर्शन नहीं
शहर-देहात के एक एक संवेदनशील इलाके को अफसरों ने रडार पर ले लिया है। इंटेलिजेंस इनपुट को भी बार बार क्राॅस चेक किया जा रहा है। आदेश के अनुसार कोई भी व्यक्ति किसी भी प्रकार के विस्फोटक, आयुध तथा ऐसी सामग्री जिससे खतरा उत्पन्न हो सकता है। हथियार जैसे लाठी, डंडा, सरिया फावड़ा हाॅकी आदि का प्रदर्शन नहीं करेगा न ही लेकर चलेगा। किसी भी प्रकार के कट आउट बैनर पोस्टर फ्लेक्स होर्डिंग्स झंडे आदि पर किसी भी धर्म व्यक्ति संप्रदाय जाति या समुदाय के विरूद्घ नारे या अन्य भड़काऊ भाषा का इस्तेमाल नहीं होना चाहिए साथ ही वर्ग धर्म एवं संप्रदाय में विद्वेष उत्पन्न करने वाली पोस्ट सोशल मीडिया पर फाॅरवर्ड नहीं करेगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *