लाखन बौद्ध गिरफ्तार, भड़काऊ मैसेज भेजते ही

ग्वालियर. सम्यक समाज संघ (एस-3) के राष्ट्रीय अध्यक्ष लाखन सिंह बौद्ध को मंगलवार को पुलिस ने शहर का माहौल बिगाड़ने की साजिश करने पर गिरफ्तार लिया, वह एससी, एसटी वर्ग के लोगों को भड़काने वाले एसएमएस कर माहौल बिागाड़ने की साजिश कर रहा था इस तरह का एसएमएस जैसे ही पुलिस के पास पहुंचा तुरंत लाखन सिंह बौद्ध को गिरफ्तार कर लिया गया है।
अब उस पर धार्मिक भावना भड़काने के आरोप में पुरानी छावनी थाने में एफआईआर पंजीबद्ध की गयी है। इसके साथ जिला बदर करने की भी तैयारी है। लाखन बौद्ध पिछले वर्ष 2 अप्रेल को अंचल में हुए उपद्रव भड़काने वाले मास्टर माइंड के रूप में सामने आया था। उसके बाद मुरार और थाटीपुर पुलिस थाने में उसके खिलाफ 31 कैस पंजीबद्ध कर उसे अरेस्ट किया गया था। पिछले वर्ष लाखन बौद्ध ने गलीगलीमें सभा लेकर सोशल मीडिया के माध्यम से मैसेज भेजकर एससी, एसटी वर्ग के लोगों को उपद्रव के लिये भड़काया था।
मुरार और थाटीपुर थाने में मामले दर्ज होने के बाद क्राइम ब्रांच ने उसे अरेस्ट कर जेल भेज दिया था। हाल ही में वह जमानत पर रिहा हुआ है। मंगल को 2 अप्रैल की घटना की बरसी को लेकर पुलिस महीने भर पहले से ही अलर्ट थी । लाखन बौद्ध समेत ऐसे तमाम लोगों पर लगातार निगाह रखी जा रही थी जो माहौल बिगाड़ सकते थे। ऐसे में लाखन बौद्ध के मोबाइल नम्बर से जब कई लोगों को भड़काऊ एसएमएस गया, जिसमें उसे अहिंसा मंें विश्वास न करने की बात कही है तो पुलिस ने उसे हिरासत में ले लिया। एसपी नवनीत भसीन ने आईजी राजाबाबू सिंह से इस मामले में मंत्रणा कर उसे खिलाफ प्रकरण दर्ज कराया।
यह है भड़काऊ मैसेज
2 अप्रैल 2018 को भारत बन्द में शहीद हुए भीम सैनिकों को श्रद्धांजलि के पुष्प अर्पित करके नमन करेंगे। ग्वालियर, भिण्डद्व डबरा, मुरैना सभी स्थानों पर लोगों ने अपनी जानी दी है। हम उनको पुष्प् अर्पित करेंगे। इस तथागत गौतमबुद्ध को मानने वाले हैं और अहिंसा में तिवश्वास नहीं करते हैं जिन लोगों ने समाज हित में कार्य कियिा है, उनको सम्मान करने के लिये ही सम्यंक समाज संघ का गठन हुआ है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *