अगस्ता-वेस्टलैण्ड -कमलनाथ के भांजे को ईडी ने तलब किया

ई दिल्ली. प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने अगस्ता-वेस्टलैण्ड वीआईपी चॉपर घोटाले में बुधवार को अदालत में हलफनामा पेश किया है कि जांच एजेंसी ने कोर्ट से कहा है कि हम आरजी की पहचान की कोशिश कर रहे हैं, जिसका जिक्र आरोपी सुशेन मोहन गुप्ता की डायरी में किया गया हैं। एजेंसी ने सुशेन से आरजी के बारे में पूछताछ करने के लिये पूछताछ की समय बढ़ाने की अपील की है, कोर्ट ने इस अवधि को 3 दिन के लिये बढ़ा दिया हैं।
गुप्ता की डायरी में आरजी के नाम से 50 करोड़ रूपये की एंट्री
इसके अलावा एजेंसी ने कोर्ट से कहा कि डील से जुड़े एक मनी लॉन्ड्रिंग के मामले में हमने रतुल पुरी को भी समन भेजा है। रतुल मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री कमलनाथ के भांजे हैं।
ईडी के वकील डीपी सिंह और एनके मट्टा ने अदालत को बताया कि एजेंसी चाहती है कि गुप्ता ने अपनी डायरी में जिस ‘‘आरजी’’ के नाम पर 50 करोड़ से ज्यादा की एंट्रियां की हैं, उसकी पहचान की जाए।
एजेंसी ने दलील दी कि गुप्ता से हिरासत में पूछताछ किया जाना जरूरी है, क्योंकि वह लगातार जांच के दौरान जानबूझकर ‘‘आरजी’’ के संबंध में गलत जानकारियां दे रहा है। जबकि, उसकी डायरी के कई पन्नों के अलावा पेन ड्राइव के डाटा में भी आरजी का जिक्र है।
डायरी में 2004 से 2016 के बीच ‘‘आरजी’’ को 50 करोड़ रुपए भेजे जाने का जिक्र है। गुप्ता ने आरजी की पहचान रजत गुप्ता के तौर पर की है। सुशेन ने कहा कि वह केवल एक आरजी को जानता है, जो कि रजत गुप्ता है। रजत गुप्ता ने 2007 के बाद सुशेन के साथ कैश ट्रांजैक्शन होने की बात स्वीकार की है। हालांकि, रजत गुप्ता ने आरजी के नाम हुए लेनदेन से इनकार किया है। उसका कहना है कि वह आरजी नहीं है।
ईडी ने कोर्ट को बताया कि सुशेन सच नहीं बता रहा है। वह सही तथ्य भी नहीं बता रहा है और यह भी नहीं बता रहा है कि असली आरजी कौन है, जिसके नाम पर एंट्रियां की गई हैं।
ईडी ने डील से जुड़े एक मनी लॉन्ड्रिंग मामले में रतुल पुरी को नोटिस भेजा। कोर्ट से जांच एजेंसी ने बताया कि हिंदुस्तान पॉवर प्रोजेक्ट प्राइवेट लिण् के चेयरमैन पुरी और सुशेन मोहन गुप्ता को आमने.सामने रखकर पूछताछ की जानी है। हालांकि, पुरी ने इस डील में किसी भी तरह के कनेक्शन से इनकार किया है। उनकी कंपनी ने कहा. पुरी जांच में ईडी का पूरा सहयोग कर रहे हैं। वह एजेंसी द्वारा मांगी गई हर जानकारी दे रहे हैं।
ईडी सूत्रों के मुताबिक, पूरी का नाम दुबई के बिजनेसमैन और इस डील के एक और बिचौलिए राजीव सक्सेना के बयान में सामने आया था।
मिशेल ने किया था ‘‘आर’’ और ‘‘मिसेज गांधी’’ का उल्लेख
इससे पूर्व ईडी ने कोर्ट को बताया कि डील के विचौलिये ‘‘दलाल’’ क्रिश्चियन मिशेल ने अपने वकील को चोरी छिपे एक चिट थमाकर पूछा था कि मिसेज गांधी से जुडे सवालों के क्या जबाव दू? ईडी ने दावा किया था कि अगस्ता वेस्टलैण्ड को भेजे गये पत्र में मिशेल ने बताया था कि इटली की महिला का बेटा ‘‘एक बड़ा आदमी आर’’ अगला पीएम बनने जा रहा है। मिशेल ने इन लोगों का नाम किस सिलेसिले में लिया और यह दोनों कौन है? इस संबंध में ईडी ने कुछ नहीं बताया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *