नेता के भतीजे ने बिना नंबर की बाइक पर कंधे पर बंदूक टंगी और सीएसपी को पूरे शहर में दौड़ाया

ग्वालियर. बिना नंबर की बाइक उस पर तीन युवक रूआब दिखाने बंदूक थामे जा रहे थे इसी दौरान उन पर सीएसपी की नजर पड़ी तो उन्हें रोका। पुलिस को देख उन्होंने बाइक दौड़ा दी सीएसपी ने पीछा कर उन्हें दबोच लिया। युवक बंदूक किसी और की बता दें है बंदूक लाइसेंसी है।
क्या है पूरा मामला
पुलिस बंदूक और बाइक जब्त कर उनसे पूछताछ कर रही है। शनिवार की रात को सीएसपी मुनीष राजौरिया अपनी जीप से नए आराओबी पुलिस से निकल रहे थे भी उन्हें पुल पर एक बिना नंबर की बाइक दिखी। उस पर 3 लोग बैठे हुए थे। उनमें से एक के पास बंदूक भी थी। पहले तो बिना नंबर की बाइक उस पर हथियार सीएसपी समझ गए कुछ ने कुछ तो बड़बड़ है उन्होंने रोका तो उन लोगों ने बाइक दौड़ा दी। एसकेवी होते हुए चौपाटी फिर इटालियन गार्डन की तरफ बाइक मोड दी। सीएसपी ने भी उनका पीछा नहीं छोड़ा जीप उनके पीछे लगाए रखी। इटालियन गार्डन से पहले ही उन्हें रोक लिया। पकड़े गए युवक हनी उर्फ प्रवीण रावत, निवासी दौलतगंज, कपिल पाल निवासी जीडीए ऑफिस के पीछे और रोहित अग्रवाल निवासी दौलतगंज है। उनेस मिली 315 बोर की बंदूक लक्की पाल निवासी दौलतगंज की है यह हिन्दू महासभा के नेता का भतीजा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *