क्वालिटी कन्सेप्ट स्वच्छता से आता है, और गीता का वितरण करना चाहता हूं-आईजी राजाबाबू

ग्वालियर. अगर कोई अपनी बात को पूरा नहीं कर पाता अपने कर्ज नहीं उतार पाता तो वह कर्जदार कहलाता है, जब मैं वेटिंग एरिया से आपके कार्यक्रम में आ रहा था तो आपके लंच बॉक्स जगह जगह पड़े हुए तो चारों ओर मुझे गंदगी दिखाई दी, और आप यहां पर क्वालिटी कन्सेप्ट की बात कर रहे हैं क्वालिटी सुधारने के साथ साथ अपने लोगों में स्वच्छता के संस्कार भी दीजिये और मैं चाहता हूं आगामी 1 अक्टूबर को बच्चों के बीच गीता भागवत बांटना चाहता हूं यह उद्गार ट्रिपल आईटीएम के सभागार में आयोजित 27 वें ग्वालियर चेप्टर क्वालिटी कन्वेंशन के क्वालिटी कन्सेप्ट में समापन समारोह में बतौर मुख्य अतिथि आईजी ग्वालियर राजाबाबू संबोधित कर रहे थे। इस अवसर पर आयोजन समिति की ओर से अविनाश मिश्रा ने अपनी टीम के साथ मुख्य अतिथि आईजी राजाबाबू का पदोन्नत होने पर बड़ी माला से सम्मान किया।
कार्यक्रम की अध्यक्षता की स्वामी स्वदीप्तानंद ने एक मशीन में छोटा सा नट होता है जिससे पूरी मशीन चलती है उसकी अपनी उपयोगिता हैं मशीन को चलाने में इसी प्रकार से मनुष्य को समाज को एक नजर से देखना चाहिये।
क्वालिटी कन्सेप्ट में बेहतर प्रजेटेंशन के लिये आईजी राजाबाबू ने पुरूस्कार प्रदान किये । स्वागत भाषण आयोजन समिति के अविनाश मिश्रा ने दिया। कार्यक्रम का संचालन सुचेता बोस लाहा आभार अविनाशचद्र उपाध्याय ने किया।
क्वालिटी कन्वेंशन में संस्थायें शामिल हुई
क्वालिटी कन्वेंशन में मुख्य रूप से शामिल होने वाली संस्थाओं में गोदरेजए जेके टायरए एसआरएफए विक्रम वूलन्सए कैडबरीजए परनार्ड गैल इंडियाए टाटाए सीयेट टॉयर्सए सिंधिया कन्या विद्यालयए ग्वालियर ग्लोरी स्कूलए प्रेस्टीज इंन्स्ट्ीयूटए लिटिल एंजिल्स स्कूलए एलएंडटीए जेबी मंघारामए सुरीन ऑटोमेटिव और वुड स्टॉक स्कूल आदि हैं।
क्वालिटी सर्किल ऑफ इंडिया के डायरेक्टर अविनाश मिश्रा ने बताया इस वर्ष क्वालिटी कन्वेंशन की थीम ष्ष्क्वालिटी कन्सेप्ट फॉर कल्चरल ब्रेकथू्रष्ष् रखी गयी हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *