लॉकडाउन 5.0 की तैयारी शुरू, जानिए पूरी प्लानिंग, कहां बढ़ सकता है छूट का दायरा

नई दिल्ली: लॉकडाउन 4 खत्म होने वाला है और हर किसी के मन में यही सवाल है कि क्या Lockdown 5.0 लागू होगा और यदि लागू होगा तो क्या शर्तें रहेंगी। सरकार ने इसकी तैयारियां शुरू कर दी हैं। गुरुवार से स्वास्थ्य सचिव स्तर की बैठकें चालू हो गई हैं। माना जा रहा है कि रविवार तक स्थिति स्पष्ट कर दी जाएगी। चर्चा है कि Lockdown 5.0 में पूरा जोर इन इलाकों पर रहेगा जो कोरोना हॉटस्पॉट बने हुए हैं। इनके अलावा देश के शेष हिस्सों में छूट का दायरा बढ़ सकता है। देश के 13 शहरों को चिह्नित किया गया है जहां कोरोना के सबसे ज्यादा केस सामने आ रहे हैं।

यहां जारी रह सकती है पाबंदियांसरकार का मानना है कि भारत में कोरोना वायरस के 70 फीसद से अधिक मामले 13 शहरों आ आए हैं। ये शहर हैं – मुंबई, चेन्नई, दिल्ली, अहमदाबाद, ठाणे, पुणे, हैदराबाद, कोलकाता, इंदौर, जयपुर, जोधपुर, चेंगलपट्टू और तेरूवल्लुर। Lockdown 5.0 में इन शहरों में सख्ती रहेगी और महामारी को कंट्रोल करने पर जोर रहेगा, ताकि संक्रमण को अन्य हिस्सों में फैलने से रोका जा सके।

गुरुवार को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए हुए बैठक में कैबिनेट सचिव ने कहा कि इन शहरों में बन रहे कोरोना के कलस्टर को रोकने के लिए पहले ही गाइडलाइंस जारी की जा चुकी हैं और उसे पूरी कड़ाई से लागू किया जाएगा। इसके तहत रेड जोन इलाके को पूरी तरह सील किया जाएगा। इसके बाद घर-घर सर्वे और अधिक-से-अधिक लोगों की जांच की जाएगी।

इन राज्यों पर भी दिया जाएगा ध्यान

हॉटस्पॉट बने इन शहरों के अलावा उन राज्यों पर विशेष नजर रहेगी, जहां से मजदूरों का आना-जाना हुआ है। इनमें शामिल हैं – उत्तर प्रदेश, बिहार, पश्चिम बंगाल और ओडिशा। सभी मजदूरों के अधिक-से-अधिक टेस्ट कराने के लिए गाइडलाइंस पहले ही जारी हो चुकी है। इसमें एक साथ 50 सैंपल का पूल टेस्ट भी शामिल हैं।

कब तक हो सकता है फैसला

Lockdown 5.0 को लेकर गुरुवार को सीधे तौर पर कोई चर्चा नहीं हुई। माना जा रहा है कि केंद्रीय गृह मंत्रालय द्वारा शनिवार तक फैसला लिए जाने की उम्मीद है। कैबिनेट सचिव की बैठक में 70 फीसद केस वाले 13 शहरों के स्थानीय अधिकारियों के शामिल करना इस बात का संकेत है कि Lockdown 5.0 में हॉटस्पॉट वाले इलाके में प्रतिबंधों पर पूरा जोर दिया जाएगा। कुछ सेवाएं पूरे देश में प्रतिबंधित रह सकती हैं, लेकिन अन्य सेवाओं को शारीरिक दूरी, मास्क और अन्य शर्तों के साथ छूट दी सकती है।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *