1000 करोड़ के हवाला रैकेट में बड़ा खुलासा, चीनी नागरिक ने फर्जी पते पर बनाई शेल कंपनियां

 

नई दिल्ली1000 करोड़ रुपये के हवाला और मनी लॉन्ड्रिंग रैकेट में आयकर विभाग द्वारा गिरफ्तार चीनी नागरिक चार्ली पेंग को लेकर एक और बड़ा खुलासा हुआ है. दरअसल, उसने कई फर्जी पते पर शेल कंपनियों की शुरुआत की.

हवाला नेटवर्क चलाने वाले चार्ली पेंग ने एजेंसियों की आंखों में जमकर धूल झोंका. वह शेल कंपनी बनाकर हजारों करोड़ का हवाला नेटवर्क चला रहा था. गुरुग्राम के 1205, पाम स्प्रिंग प्लाजा, सेक्टर 59, गोल्फ कोर्स रोड पते पर चार्ली इनविन लॉजिस्टिक्स इंडिया लिमिटेड नाम की कंपनी चला रहा था.

लेकिन अब जमीनी हकीकत ये है कि इस जगह के सिक्योरिटी मैनेजर ने खुद बताया है कि यहां इनविन लॉजिस्टिक्स नाम की कभी कोई कंपनी रही ही नहीं. जो पता चार्ली ने दिया है वो गुरुग्राम का है लेकिन यहां के सिक्योरटी इंचार्ज बाकायदा बता रहे हैं कि यहां कोई काम नहीं चल रहा बल्कि सब कुछ खाली है. इस तरह कई फर्जी एड्रेस के जरिए चार्ली शेल कंपनी चलकर हवाला का कारोबार कर रहा था और जासूसी का नेटवर्क भी चला रहा था.

इस एड्रेस पर कुछ वक्त पहले तक चार्ली की एक शेल कंपनी थी. लेकिन उसने इस जगह को खाली कर दिया था. आपको बता दें कि जांच एजेंसियां चार्ली से लगातार पूछताछ कर रही हैं और उसके बताए दिल्ली और गुरुग्राम सभी पतों पर छापेमारी कर जानकारी जुटा रही हैं. सूत्रों का कहना है कि चार्ली ने दिल्ली और गुरुग्राम के कई पतों पर अपना आधार कार्ड बनवाया और शेल कंपनियां खोलीं.

आपको बता दें कि चीनी नागरिक चार्ली पेंग को सितंबर 2018 में जासूसी (Chinese Spy) के आरोप में दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल ने गिरफ्तार किया था. चार्ली पर आरोप था कि वो चीन के लिए जासूसी कर रहा है और हवाला का कारोबार भी चला रहा है.

उस दौरान पुलिस को आरोपी के पास से भारतीय पासपोर्ट और आधार कार्ड मिला था. पुलिस अधिकारियों के मुताबिक, चार्ली का पासपोर्ट मणिपुर से जारी किया गया था, जबकि आधार कार्ड पर दिल्ली के द्वारका इलाके का पता दिया गया था. उस दौरान आरोपी के पास से एक फॉर्च्यूनर कार, साढ़े तीन लाख भारतीय करेंसी, 2000 हजार डॉलर, 22 हजार थाई करेंसी बरामद हुई थी. पुलिस जानकारी में सामने आया था कि आरोपी ने भारत में मणिपुर की लड़की से शादी भी थी और उसी के आधार पर अपना पासपोर्ट बनवाया था.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *